logo
BD Special: मुंबई बम धमाकों से जुड़ा था संजय दत्त का नाम, जेल में हो गए थी ऐसी हालत
 

बॉलीवुड अभिनेता संजय दत्त का आज जन्मदिन है। वैसे उनकी जिंदगी अब सामान्य हो गई है, लेकिन एक वक्त ऐसा भी था जब उन्होंने जेल में समय बिताया था। जी हां, जेल में उनका जीवन बेहद कठिन परिस्थितियों में बीता। वहीं जेल से छूटने के बाद उन्होंने जेल में बिताए हर एक दिन को सालों के बराबर बताया. जी दरअसल एक इंटरव्यू में संजू बाबा ने कहा था कि वो उन काले दिनों को कभी नहीं भूल सकते. उसे विश्वास नहीं हो रहा था कि वह अब खुली हवा में सांस ले रहा है। वहीं, संजय दत्त पर पैसे के दम पर जेल में सारा सामान इकट्ठा करने का आरोप लगा था। हालांकि संजय ने उस वक्त कहा था कि जेल में उन्हें कीड़ों वाला खाना दिया गया था।

uu

साथ ही उन्होंने बताया था कि कई लोगों ने खाने में मक्खियों को लेटे हुए देखा था और दिन भर के काम के बाद भूखे रहते थे, इसलिए मक्खी खाना निकाल कर खा जाती थी. इसके अलावा एक इंटरव्यू में संजू ने बताया था कि, जेल में उन्हें जानवरों जैसा खाना दिया जाता था, लेकिन उनके दोस्त युसूफ ने वो खाना बिल्कुल नहीं खाया. वहीं संजय ने बताया कि उन्होंने करीब एक साल से ऐसी दाल खाई है, सब्जियों के नाम पर वहां सिर्फ 'राजगिरा' बनता था. दरअसल, जेल में संजय दत्त कई काम करते थे, हालांकि उन्हें एंटरटेनमेंट का काम भी सौंपा गया था। उन्होंने जेल के अंदर सामुदायिक रेडियो में जॉकी के रूप में भी काम किया। इसके साथ ही संजय दत्त जेल में पेपर बैग बनाते थे और इसके लिए उन्हें हर दिन 50 रुपये मिलते थे. इसके अलावा संजय दत्त ने साथी कैदियों को मिमिक्री आइटम भी सुनाकर उनका मनोरंजन किया।

ii

संजय दत्त को माचो मैन इसलिए कहा जाता है क्योंकि वह जेल में भी नियम से व्यायाम करते थे। उन्होंने देसी एक्सरसाइज से सिक्स पैक एब्स बनाए थे। वह रोज सुबह 5 बजे उठकर व्यायाम में शामिल हो जाते थे और योग और ध्यान भी करते थे। कहा जाता है कि 1993 के मुंबई धमाकों के बाद संजय दत्त को एके-47 जैसे हथियार रखने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। वहीं इस मामले में उन्हें टाडा कोर्ट में दोषी ठहराया गया था और कोर्ट ने उन्हें पांच साल की सजा सुनाई थी, हालांकि अच्छे व्यवहार के चलते उन्हें सजा से 103 दिन पहले 25 फरवरी 2016 को जेल से रिहा कर दिया गया था।