logo
BD Special : कभी पिता के साथ शादियों में गाते थे सोनू निगम
 

बॉलीवुड में अपनी आवाज का जादू सभी के दिलों पर बसाने वाले सिंगर सोनू निगम का आज जन्मदिन है। सोनू का जन्म फरीदाबाद में एक कायस्थ परिवार में हुआ था और उन्होंने 4 साल की उम्र में अपने गायन करियर की शुरुआत की थी। आप सभी को बता दें कि गायक की शैली को देखकर उस दौर में लोग उन्हें एक और मोहम्मद रफी कहने लगे। दरअसल, बचपन में उन्होंने एक मंच पर आकर अपने पिता आगम निगम के साथ मोहम्मद रफी का गाना 'क्या हुआ तेरा वादा' गाया था और उसके बाद उन्होंने लोगों की शादियों में अपने पिता के साथ गाना शुरू किया।

ii

उनकी आवाज लोगों के दिलों को छूने लगी और मंच पर आते ही काफी मशहूर हो गए। 19 साल की उम्र में सोनू निगम अपने पिता के साथ सिंगिंग को करियर बनाने के लिए मुंबई आ गए। यहां उन्होंने हिंदुस्तानी शास्त्रीय गायक उस्ताद गुलाम मुस्तफा खान से प्रशिक्षण लिया और फिर करियर बनाना शुरू किया। सोनू निगम ने न केवल हिंदी बल्कि मराठी, तमिल और तेलुगु सहित लगभग 12 भाषाओं में महारत हासिल की है और इन सभी भाषाओं में गाने गाए हैं। सोनू निगम ने 1995 में लोकप्रिय टीवी शो 'सा रे गा मा पा' को होस्ट करना शुरू किया और उसके बाद उन्होंने बेवफा सनम फिल्म का गाना 'अच्छा सिला दिया' गाया।

ii

इसके अलावा, उन्होंने फिल्म बॉर्डर में अनु मलिक द्वारा रचित गीत 'संदेश आते हैं' भी गाया, जो बहुत हिट हुआ। सोनू ने अपनी आवाज के लिए कई अवॉर्ड जीते। हालांकि सोनू तब सुर्खियों में आए जब उन्होंने बॉलीवुड माफिया के राज खोले। उन्होंने कहा था, " दुर्भाग्य से हमारे देश में संगीत उद्योग का माहौल ऐसा है कि संगीत उद्योग में फिल्मों से बड़ा माफिया है। आप बहुत बड़े हैं, आप संगीत उद्योग को नियंत्रित करते हैं कि रेडियो  और फिल्मों में पर क्या चलेगा । लेकिन ऐसा मत करो। यह सही नहीं है। इन दो लोगों के हाथों में शक्ति है, संगीत उद्योग से केवल दो लोग हैं, दो कंपनियां हैं। उनके हाथों में यह तय करने की ताकत है कि क्या चुनने के लिए, या हारने के लिए।'' हालांकि, इस खुलासे के बाद, वह चर्चा काफी में आ गए  थे ।