logo
Mother Teresa: आज ही के दिन हुआ था मदर टेरेसा का जन्म, जानिए उनके अनमोल विचार
 

आज ही के दिन 1910 यानि 26 अगस्त को एक महिला का जन्म हुआ था जिसने लाखों लोगों को जीवन जीने का पाठ पढ़ाया था, यह महिला कोई और नहीं बल्कि मदर टेरेसा है, उनका मानना ​​था कि जख्मी हाथ प्रार्थना करने वाले होठों से ज्यादा पवित्र होते हैं।

उनके द्वारा स्थापित संस्था मिशनरीज ऑफ चैरिटी आज 123 देशों में सक्रिय है। कुल 4,500 बहनें हैं, उन्हें नोबेल शांति पुरस्कार भारत रत्न, टेम्पलटन पुरस्कार, ऑर्डर ऑफ मेरिट और पद्म श्री से सम्मानित किया जा चुका है। मदर टेरेसा के बचपन का नाम अनेज़ गोन्शे बोजाक्षिउ था। इसका अर्थ है एक छोटा फूल।


उनके पास अलग-अलग समय में 5 देशों की नागरिकता थी। इनमें तुर्क, सर्बिया, बुल्गारिया, यूगोस्लाविया और भारत शामिल थे। 1948 में, उन्होंने कलकत्ता में काम करना शुरू किया और नन की पोशाक के बजाय नीले बॉर्डर वाली सफेद साड़ी पहनना शुरू कर दिया।

1. ईश्वर कभी नहीं चाहता कि हम सफल हों, वह चाहता है कि हम प्रयास करते रहें।

2. मैं सफलता के लिए नहीं बल्कि विश्वास के लिए प्रार्थना करता हूं।

3. अगर आप सौ लोगों की मदद नहीं कर सकते तो सिर्फ एक की मदद करें।

4. हम कभी नहीं जान पाएंगे कि वह छोटी सी मुस्कान कितना अच्छा कर सकती है और कितने लोगों को खुशी दे सकती है।

5. मीठे बोल बोलने में बहुत सरल होते हैं लेकिन उनकी प्रतिध्वनि अनंत होती है।