logo
Anti Ageing Herbs: दमकती-जवां त्‍वचा के लिए इन हर्ब्‍स को करें ट्राय, यहाँ जानिए इनके बेहिसाब लाभ
 

आयुर्वेद, एक प्राचीन चिकित्सा प्रणाली, का उपयोग आज भारत, श्रीलंका और अन्य दक्षिण एशियाई देशों में किया जा रहा है।

किसी की बाहरी उपस्थिति को बढ़ाने के अलावा, आयुर्वेदिक सौंदर्य प्रसाधनों का उपयोग दीर्घायु और इष्टतम स्वास्थ्य को प्रोत्साहित करने वाला माना जाता था। अभी बाजार में बहुत सारे आयुर्वेदिक त्वचा देखभाल सूत्र हैं, लेकिन सर्वोत्तम परिणामों के लिए, आपके सामान की गुणवत्ता और घटकों को समझना महत्वपूर्ण है।

हल्दी (हल्दी): हल्दी (हल्दी) के फायदों से हम सभी परिचित हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि यह हमारी त्वचा के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। हल्दी में मौजूद करक्यूमिन में एंटीबैक्टीरियल, एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-एजिंग गुण होते हैं। नतीजतन, आपकी त्वचा की प्राकृतिक चमक और चमक बढ़ जाती है।

चंदन (चंदन): कई आयुर्वेदिक हर्बल दवाओं में चंदन होता है, जो आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति में एक आवश्यक पौधा है। इस पारंपरिक जड़ी बूटी में प्राकृतिक चमक और शीतलन प्रभाव होता है जो सूरज की क्षति, काले धब्बे और असमान त्वचा टोन का इलाज करने में मदद करता है।

गिलोय (हार्ट-लीव्ड मूनसीड): एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर एंटीपायरेटिक गिलोय ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करके त्वचा की उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को धीमा कर देता है। इसके अतिरिक्त, इसमें विरोधी भड़काऊ गुण होते हैं जो सूजन को कम करने और त्वचा के ऊतकों के पुनर्जनन में मदद करते हैं।

आंवला (भारतीय आंवला): आंवला, जिसे भारतीय आंवले के रूप में भी जाना जाता है, एक शक्तिशाली एंटी-एजिंग पौधा है क्योंकि इसमें बहुत सारे विटामिन सी और एंटीऑक्सिडेंट होते हैं। यह आपकी त्वचा को सख्त और अधिक चमकदार बनाता है। आंवला जूस के नियमित सेवन से त्वचा में कोलेजन पैदा करने की क्षमता बढ़ती है। फेस वाश और पैक के रूप में आंवला के अर्क का बाहरी अनुप्रयोग सनबर्न, मुंहासों और त्वचा की अन्य स्थितियों की रोकथाम में सहायक होता है।

नीम: दक्षिण एशियाई देशों में एक और लोकप्रिय औषधीय पौधा नीम है। नीम के पत्तों और अर्क के लाभों में जीवाणुरोधी, विरोधी भड़काऊ, एंटीऑक्सिडेंट और औषधीय गुण शामिल हैं। इससे मुंहासे और रूखी त्वचा दोनों का इलाज किया जा सकता है। यह निशान और झुर्रियों को कम करने में भी मदद कर सकता है क्योंकि यह कोलेजन के निर्माण को प्रोत्साहित करता है।