logo
Black turmeric benefits: चमत्कारी गुणों से भरपूर है काली हल्दी, जानिए स्वास्थ्य और त्वचा के लिए इसके फायदे
 

भारतीय खाने को स्वादिष्ट बनाने वाले मसालों में हल्दी मुख्य भूमिका निभाती है। हल्दी रंग देने के अलावा अच्छी सेहत भी बनाती है और हल्दी का इस्तेमाल सिर्फ किचन में ही नहीं बल्कि औषधि के रूप में भी किया जाता रहा है। दरअसल, हल्दी एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती है और हमारे इम्यून सिस्टम को बूस्ट करती है। ऐसे में हल्दी का सेवन सबसे अच्छा माना जाता है। वैसे तो आप अब तक पीली हल्दी का इस्तेमाल करते आए होंगे, लेकिन क्या आपने काली हल्दी के बारे में सुना है? दरअसल, यह कालेपन  लिए कुछ नीले रंग का होता है। अब आज हम आपको काली हल्दी के फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं। आइए जानते हैं।

औषधीय गुणों से भरपूर है पीली हल्दी की तरह इसमें कई औषधीय गुण होते हैं। जैसे कि ऐंटिफंगल, एंटी-अस्थमा, एंटीऑक्सिडेंट, एनाल्जेसिक, लोकोमोटर डिप्रेसेंट्स, एंटीकॉन्वेलेंट्स, एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-अल्सर और मांसपेशियों को आराम देने वाले प्रभाव, चिंता और सीएनएस अवसाद से राहत देने वाले गुण शामिल हैं।

ff

सांस संबंधी समस्याओं में फायदा- काली हल्दी का इस्तेमाल आप सांस संबंधी समस्याओं को दूर करने के लिए कर सकते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि इसमें भड़काऊ गुण होते हैं और यह सर्दी, खांसी और अस्थमा से छुटकारा दिलाता है।

पीरियड्स के दर्द से राहत- ज्यादातर महिलाओं को पीरियड्स के दौरान काफी दर्द से गुजरना पड़ता है। ऐसा होने पर काली हल्दी काफी राहत दे सकती है। जी हां, आप गर्म दूध में काली हल्दी पाउडर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

ff

तेज सिर दर्द से राहत- माइग्रेन की समस्या में सिर के पिछले हिस्से में बहुत तेज दर्द होता है। ऐसा करने से पीड़ित व्यक्ति तेज आवाज और रोशनी के प्रति संवेदनशील हो जाता है। हालांकि इसमें काली हल्दी के इस्तेमाल से राहत मिल सकती है।

कैंसर रोधी गुण - काली हल्दी में करक्यूनिन नामक तत्व होता है। जी हां और इस तत्व में कैंसर रोधी गुण होते हैं, जो शरीर में कैंसर कोशिकाओं को बढ़ने नहीं देते या उन्हें पनपने से नहीं रोकते।