logo
Health Tips – गर्भपात से आई कमजोरी को दूर करने के लिए, आहार में शामिल करें इन खाद्य पदार्थों को
 

दुनिया में किसी भी महिला के मॉ बनने जैसा सुख कुछ भी नहीं होता हैं, जब उन्हें प्रेगनेंसी की खबर मिलती हैं तो वो खुशी से भर जाती हैं, लेकिन कई केस में गर्भपात हो जाता हैं, जिससे वो महिला पूरी तरह मन, तन और दिमाग से निराश हो जाती हैं, गर्भपात होने का सबसे बड़ा असर आपके मानसिक और शारीर पर होता हैं, इससे आप कमजोर हो जाते हैं, ऐसे में एक महिला को गर्भपात के बाद भावनात्मक सहारा के साथ-साथ शरीर को पोषण की भी जरूरत होती है।

Health Tips – गर्भपात से आई कमजोरी को दूर करने के लिए, आहार में शामिल करें इन खाद्य पदार्थों को

गर्भपात की सर्जरी के बाद, शरीर में कैल्शियम, मैग्नीशियम, कार्बोहाइड्रेट और विटामिन की भी कमी हो सकती है, जिससे महिलाओं को रक्तस्राव, सीने में दर्द, थकान, पेट में दर्द और ऐंठन और उल्टी बार-बार चक्कर आना, बेचैनी और सिरदर्द और कमजोरी होती, इनसे निजात पाने के लिए ग्रसित महिला को स्वस्थ और पौष्टिक आहार का सेवन करना चाहिएं, आइए जानते हैं इनके बारें में-

भरपूर आयरन लें:

Health Tips – गर्भपात से आई कमजोरी को दूर करने के लिए, आहार में शामिल करें इन खाद्य पदार्थों को

गर्भपात के दौरान खून बहने से शरीर में आयरन की कमी हो सकती है। आयरन कमी को पूरा करना बहुत जरूरी है। जिसके लिए आप खाद्य पदार्थ जैसे पालक, खजूर, बीन्स, हरी पत्तेदार सब्जियां, किशमिश, दालें, कद्दू के बीज, सोयाबीन, ब्राउन राइस, डार्क चॉकलेट और कद्दू का सेवन कर सकती हैं।   

गर्भावस्था के दौरान शरीर में कैल्शियम का स्तर तेजी से कम होता है, इसको बढाने के लिए कैल्शियम युक्त खाद्य पदार्थ खाएं जैसे सूखे मेवे, डेयरी उत्पाद, दूध, समुद्री भोजन,हरी पत्तेदार सब्जियां और सोया, टोफू, भिंडी, ब्रोकली और दूध।