logo
Travel Tips चांद पर जाना है तो एक बार जरूर जाएं मूनलैंड
 

आजकल बहुत से लोग ऐसे हैं जो घूमना फिरना पसंद करते हैं। लोग आजकल चांद पर अपना घर बनाने की कोशिश कर रहे हैं. जिसके लिए कुछ लोगों ने चांद पर जमीन भी खरीद ली है। अंतरिक्ष में जमीन खरीदना और बेचना गैरकानूनी है। जिसके लिए साल 1967 में एक कानून बनाया गया था, जिसमें चांद-तारों पर जमीन की खरीद-फरोख्त पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई थी। इस समझौते पर भारत समेत 104 देशों ने हस्ताक्षर किए और सहमति जताई। अभी चांद पर बसना बेहद मुश्किल है।

d

बता दे की, आजकल लोग चांद की धरती अपने नाम पर ही बनाते हैं, जो लोग चांद पर चलना चाहते हैं उन्हें निराश होने की जरूरत नहीं है, क्योंकि भारत में एक ऐसी जगह है। यहां आप चांद के दर्शन कर सकते हैं। दरअसल पूरी दुनिया इस जगह को मूनलैंड के नाम से जानती है। यदि आप भी घूमने-फिरने के शौकीन हैं और चांद के दर्शन करना चाहते हैं तो मूनलैंड जा सकते हैं। तो आइए जानते हैं मूनलैंड के बारे में विस्तार से।

मूनलैंड कहाँ है - आपकी जानकारी के लिए बता दे की, यह स्थान भारत के कश्मीर में स्थित है और यह लेह से मात्र 127 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इस जगह का नाम है लामायुरु गांव। लामायुरु गांव में घूमने के लिए दुनिया भर से लोग आते हैं। खासकर मूनलैंड के दर्शन के लिए जरूर आते हैं। हिंदी में इसे चांद की धरती कहते हैं। यह गांव 3,510 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है।

क्या है खासियत- पहले इस जगह पर एक सरोवर था जो बाद में सूख गया। लामायुरु गांव में एक मठ भी है जो आकर्षण का केंद्र है। झील की पीली-सफेद मिट्टी बिल्कुल चांद की धरती जैसी दिखती है। पूर्णिमा की रात जब चंद्रमा की रोशनी उस पर पड़ती है तो मिट्टी चमकने लगती है और चांद की तरह दिखने लगती है।