logo
Utility News रुपया 60 पैसे गिरकर अब तक के सबसे निचले स्तर 77.50 प्रति डॉलर पर आ गया
 

रतीय रुपये में गिरावट जारी रही, सोमवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 60 पैसे गिरकर 77.50 के रिकॉर्ड निचले स्तर पर आ गया, विदेशों में डॉलर की मजबूती और विदेशी फंड के बहिर्वाह को जारी रखा। जोखिम की भूख कम हो गई है, क्योंकि मुद्रास्फीति की आशंका बढ़ती है , शायद वैश्विक केंद्रीय बैंकों द्वारा अधिक आक्रामक दर वृद्धि को प्रेरित कर रहा है।

hh

आपकी जानकारी के लिए बता दे की, रुपया अंतरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में ग्रीनबैक के मुकाबले 77.17 पर खुला और दिन के अंत में 77.50 पर बंद हुआ, जो अपने पिछले खत्म से 60 पैसे कम था। कारोबारी सत्र के दौरान रुपया 77.52 के सबसे निचले स्तर पर पहुंच गया। रुपया 55 पैसे गिरकर 76.90 पर बंद हुआ था।

 h

दो कारोबारी दिनों में डॉलर के मुकाबले रुपया 115 पैसे टूट चुका है। वैश्विक बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड वायदा 1.68 प्रतिशत घटकर 110.50 डॉलर प्रति बैरल हो गया।

30 शेयरों वाला बीएसई सेंसेक्स 364.91 अंक या 0.67 प्रतिशत गिरकर 54,470.67 पर बंद हुआ, जबकि एनएसई निफ्टी 109.40 अंक या 0.67 प्रतिशत गिरकर 16,301.85 पर बंद हुआ। स्टॉक एक्सचेंज के आंकड़ों के मुताबिक, विदेशी संस्थागत निवेशक शुक्रवार को पूंजी बाजार में शुद्ध बिकवाली कर रहे थे, जिन्होंने 5,517.08 करोड़ रुपये के शेयरों की बिक्री की।