logo
World Humanitarian Day: जानिए क्यों मनाया जाता है विश्व मानवतावादी दिवस ?
 

मानवतावादी दिवस पूरे विश्व में वर्ष 2013 में मनाया गया था, जबकि संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएनजीए) ने इस दिन को वर्ष 2008 में मनाना शुरू किया था। इसका उद्देश्य इसके माध्यम से उन मानवीय कार्यकर्ताओं को उचित सम्मान देना था, जिन्होंने अपना संपूर्ण समर्पण कर दिया है। मानव सेवा के लिए रहता है। यह दिन मानवता के ऐसे सेवकों को समर्पित है, जिन्होंने मानवता की सेवा करते हुए अपनी जान की भी परवाह नहीं की।

इस दिन के लिए 19 अगस्त की तारीख इसलिए चुनी गई क्योंकि 2003 में इसी दिन बगदाद में संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय पर बमबारी की गई थी। बमबारी में इराक में संयुक्त राष्ट्र के शीर्ष दूत सर्जियो विएरा डी मेलो सहित 22 अन्य मानवीय कार्यकर्ता मारे गए। संयुक्त राष्ट्र (यूएन) ने इस दिन को उन लोगों के साहसी कार्यों को याद करने के लिए एक दिन के रूप में घोषित किया है जिन्होंने मानवता की सेवा करते हुए अपने प्राणों की आहुति दी है। "यह मानवता को याद करने और दुनिया भर में हजारों मानवीय कार्यकर्ताओं को श्रद्धांजलि देने का दिन है, जिन्होंने संकट और पूरी तरह से निराशा के बीच जरूरतमंद लोगों को जीवन रक्षक सहायता प्रदान करने के लिए अपनी जान जोखिम में डाल दी," स्टीफन ओ'ब्रायन ने कहा। संयुक्त राष्ट्र मानवीय कार्य।


बता दें कि 19 अगस्त को विश्व मानवतावादी दिवस के मौके पर जान जोखिम में डालकर दूसरों की मदद करने वालों के लिए रैली निकाली जाती है. इस रैली का उद्देश्य पूरी दुनिया में मानव श्रमिकों की खराब स्थिति को उजागर करना और दुनिया को उनकी स्थिति के बारे में बताना है।