logo
हर क्षेत्र में पानी है सफलता तो गुरु बृहस्पति को ऐसे करे प्र्शन्न
 

ज्योतिष शास्त्र में कुंडली में बैठा हर ग्रह जातक के जीवन पर सीधा असर करता है ज्योतिष में नौ ग्रह मानते माने जाते हैं इसमें गुरु को सबसे शुभ माना गया है जीवन के सभी क्षेत्रों में सफलता के पीछे गुरु की स्थिति काफी महत्वपूर्ण मानी गई है।

हर क्षेत्र में पानी है सफलता तो गुरु बृहस्पति को ऐसे करे प्र्शन्न

धार्मिक शास्त्रों के अनुसार बृहस्पति को देवताओ का गुरु माना गया है अगर जातक की कुंडली में गुरु की मजबूत स्थिति है तो उसका सफल होना लगभग तय है अगर आपके साथ भी आपको भी किसी काम में सफलता नहीं मिल रही है या आर्थिक तौर पर मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है तो यहांजाने कि गुरु को कमजोर गुरु को कैसे मजबूत किया जाए।

हर क्षेत्र में पानी है सफलता तो गुरु बृहस्पति को ऐसे करे प्र्शन्न

गुरु के दुष्प्रभाव को कम करने के लिए सकारात्मक दिशा लाने के लिए भगवान शिव की आराधना करें रुद्रा अभिषेक से भी गुरु को प्रसन्न किया जा सकता है गुरु के दुष्प्रभाव को पंचमुखी रुद्राक्ष धारण करके कम किया जा सकता है।

हर क्षेत्र में पानी है सफलता तो गुरु बृहस्पति को ऐसे करे प्र्शन्न

गुरु कुंडली में कमजोर होने की वजह से जीवन में कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है ऐसे में इसके दुष्प्रभाव से बचने के लिए गरीबों को भोजन कराएं उन्हें दही चावल खिलाना काफी शुभ माना जाता है।