logo
OMG :गर्भपात रोकने वाली दवाओं से होने वाली संतान को हो सकता है कैंसर
 

गर्भपात को रोकने के लिए इस्तेमाल होने वाली दवाओं का प्रयोग से संतान कैंसर का खतरा अधिक रहता है एक अध्ययन में यह निष्कर्ष आया है। 

io

स्टन में यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्सास हेल्थ साइंस सेंटर के शोधकर्ताओं की तरफ से किए गए अध्ययन के निष्कर्ष 'अमेरिकन जर्नल ऑफ ऑब्सटेट्रिक्स एंड गॉयनोकोलॉजी'  में प्रकाशित हुए हैं शोधकर्ताओं के मुताबिक दवा 17-ओएचपीसी, एक सिंथेटिक प्रोजेस्टोजन है जिसका उपयोग महिलाओं द्वारा 1950 और 1960 के दशक में किया जाता है और आज भी समय से पहले जन्म को रोकने में मदद करने के लिए दवा दी जाती है। 

io

प्रोजेस्ट्रोन गर्भावस्था के दौरान गर्भ को बढ़ने  में मदद करता है और महिला को जल्दी संकुचन होने से रोकता है एक अध्ययन के मुताबिक गर्भावस्था के दौरान दवा लेने वाली महिलाओं से पैदा हुए बच्चों में इस दवा को ना लेने वाली महिलाओं से पैदा हुए बच्चों की तुलना में उनकी जीवन काल में कैंसर की दर दोगुनी होती है । 

io

 शोधकर्ताओं के अनुसार गर्भावस्था के दौरान इस दवा को लेने से शुरुआती विकास बाधित हो सकता है जिससे  दशकों के बस  कैंसर का खतरा बढ़ सकता है उन्होंने कहा कि इस दवा के प्रयोग से हम सिंथेटिक हार्मोन के प्रभाव देख रहे है।