logo
Ind vs WI : विंडीज क्लीन स्वीप, किस्मत ने नहीं किया गिल का साथ
 

नई दिल्ली: पोर्ट ऑफ स्पेन में ब्लू ब्रिगेड ने तिरंगा लहराकर वेस्टइंडीज की धरती पर भारतीय टीम ने इतिहास रच दिया है। भारत ने वेस्टइंडीज को तीसरे मैच में भी हराकर 3 मैचों की सीरीज में क्लीन स्वीप कर लिया है. भारत ने डकवर्थ लुईस नियम से 119 रन से मैच जीत लिया। धवन, चहल और गिल ने तीसरे वनडे में भारत के लिए अच्छा खेला। पहले और दूसरे वनडे में भारत की जीत का अंतर भले ही छोटा रहा हो, लेकिन तीसरे वनडे में धवन एंड कंपनी ने वेस्टइंडीज को हरा दिया।

हालांकि इस मैच में बारिश हुई थी, इसलिए डकवर्थ-लुईस नियम की मदद से नतीजा निकाला गया। बता दें कि पोर्ट ऑफ स्पेन में टीम इंडिया की यह लगातार 12वीं वनडे जीत है। उन्हें आखिरी बार श्रीलंका ने यहां 2007 के एकदिवसीय विश्व कप में हराया था। तीसरे वनडे में डकवर्थ-लुईस नियम के तहत वेस्टइंडीज को 35 ओवर में 257 रन बनाने का लक्ष्य मिला। लेकिन कैरेबियाई टीम 26 ओवर में 137 रन पर ढेर हो गई। बारिश के बाद बदले हुए हालात का भारतीय गेंदबाजों ने फायदा उठाया, जिससे वेस्टइंडीज की बल्लेबाजी पूरी तरह बिखर गई। वेस्टइंडीज का कोई भी बल्लेबाज अर्धशतक नहीं बना सका। 42-42 का सर्वोच्च स्कोर कप्तान निकोलस पूरन और ब्रेंडन किंग ने बनाया। वहीं टीम इंडिया की तरफ से चहल की स्पिन ने अपना असर बखूबी दिखाया। उनके अलावा सिराज और शार्दुल ठाकुर ने भी खतरनाक गेंदबाजी की।

बारिश से प्रभावित इस मैच में युजवेंद्र चहल ने सिर्फ 4 ओवर फेंके और 17 रन देकर 4 विकेट लिए। उनके अलावा मोहम्मद सिराज ने 3 ओवर में 14 रन देकर 2 विकेट लिए। शार्दुल ठाकुर ने भी 5 ओवर में 17 रन देकर 2 बल्लेबाजों का शिकार किया। इनके अलावा प्रसिद्ध कृष्णा और अक्षर पटेल को भी एक-एक विकेट मिला। इससे पहले टीम इंडिया की ओपनिंग जोड़ी ने एक बार फिर भारत को मजबूत शुरुआत दिलाने का काम किया। यह दूसरी बार था जब भारत की सलामी जोड़ी ने श्रृंखला में शतकीय साझेदारी की। धवन और गिल ने पहले विकेट के लिए 113 रन जोड़े। शिखर धवन 74 गेंदों में 58 रन बनाकर पवेलियन लौटे, जो इस सीरीज में उनका दूसरा अर्धशतक है।

वहीं शुभमन गिल ने भी शानदार खेल दिखाया और बारिश की रुकावट के चलते वह अपने पहले वनडे शतक से महज 2 रन दूर थे। उन्होंने 98 गेंदों में 98 रन की नाबाद पारी खेली। बारिश के कारण टीम इंडिया ने केवल 36 ओवर बल्लेबाजी की, जिसमें उसने 3 विकेट के नुकसान पर 226 रन बनाए। बारिश ने भारतीय पारी को बाधित किया तो अंत में डकवर्थ-लुईस नियम का सहारा लिया और वेस्टइंडीज को 35 ओवर में 257 रन का लक्ष्य दिया गया। भारत ने पहली बार वेस्टइंडीज में खेली गई वनडे सीरीज में भी क्लीन स्वीप किया, जो शिखर धवन की कप्तानी में संभव हुआ।