logo
Jay Shah Statement: जय शाह के बयान से PCB को लगी मिर्ची, उठाने जा रही ये कदम
 

नई दिल्ली: बीसीसीआई सचिव जय शाह द्वारा आईपीएल को लेकर दिए गए बयान से पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) बौखला गया है।  जय शाह ने कहा था कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के अगले फ्यूचर टूर प्रोग्राम (एफटीपी) में आईपीएल के लिए ढाई महीने का समय होगा। शाह ने यह भी कहा था कि बीसीसीआई पहले ही अन्य क्रिकेट बोर्डों के अलावा आईसीसी के साथ चर्चा कर चुका है। पीसीबी ने कहा है कि आईपीएल से जुड़ी इस विंडो से अन्य अंतरराष्ट्रीय सीरीज में बाधा आएगी। पीसीबी का मानना ​​है कि इस मामले पर चर्चा करने की जरूरत है। 

एक मीडिया से बात करते हुए पीसीबी के एक अधिकारी ने कहा है कि, 'आईसीसी बोर्ड की बैठक जुलाई में बर्मिंघम में कॉमनवेल्थ गेम्स के दौरान होगी और संभवत: इस मामले को वहीं उठाया जाएगा।  पीसीबी क्रिकेट में आने वाले पैसे से खुश है, लेकिन भारतीय बोर्ड की हर सीजन में आईपीएल के लिए प्रमुख अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों को बुक करने की योजना से अंतरराष्ट्रीय सीरीज और इवेंट में बाधा आ सकती है। जय शाह ने पीटीआई से कहा कि, 'बीसीसीआई को कभी नहीं लगा कि मीडिया राइट्स में बेस प्राइस बहुत ज्यादा है। यह समझने की जरूरत है कि 2018 में 60 मैच हुए थे। अगले सीजन में हमारे पास 410 मैच होंगे। आपको डिजिटल प्रभावों की जांच करने की भी आवश्यकता है। 2017 में लगभग 56 करोड़ डिजिटल दर्शक थे और 2021 में यह संख्या बढ़कर 66.5 हो गई। आपको आने वाले वर्षों में इसके और भी बढ़ने की संभावना है।
 
जय शाह ने बताया है कि, '2027 में आईपीएल में 94 मैच खेले जाएंगे, हमने इस पहलू पर काम किया है। आईपीएल के अगले आईसीसी एफ़टीपी कैलेंडर से ढाई महीने की आधिकारिक विंडो होगी, ताकि सभी शीर्ष अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर भाग ले सकें। हमने विभिन्न बोर्डों के साथ-साथ आईसीसी के साथ भी चर्चा की है।