logo
Ranji Trophy Final: रणजी में इतिहास रचेगा मध्य प्रदेश, मुंबई की टीम से होगी कड़ी टक्कर
 

भारत क्रिकेट टूर्नामेंट रणजी ट्रॉफी में खिताबी जंग अब शुरू हो गई है। फाइनल आज से मध्य प्रदेश और मुंबई के बीच बेंगलुरु के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेला जाएगा। मध्य प्रदेश की टीम आदित्य श्रीवास्तव की कप्तानी में पहली बार रणजी ट्रॉफी जीतकर इतिहास रचने जा रही है। हालांकि मध्य प्रदेश के लिए खिताब जीतना इतना आसान नहीं होने वाला है, क्योंकि उसका सामना मुंबई की धाकड़ टीम की 41 बार की चैंपियन से होने जा रहा है।  इस बार मुंबई टीम की कप्तानी टीम इंडिया के स्टार ओपनर पृथ्वी शॉ के हाथ में है।  वह टीम को चैंपियन बनाने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक देंगे।

पिछले 5 मैचों में मुंबई की बढ़त भारी: मध्य प्रदेश और मुंबई के बीच पिछले पांच रणजी मैचों की बात करें तो टीम का झुकाव मुंबई की तरफ थोड़ा सा होता दिख रहा है।  पिछले पांच मैचों में मुंबई ने दो में जीत हासिल की है, जबकि अन्य तीन ड्रॉ रहे हैं। दोनों टीमों के बीच पिछले चार मैच लगातार ड्रा रहे हैं। इनमें से एक में मुंबई ने पहली पारी के आधार पर जीत हासिल की। मध्य प्रदेश की टीम के लिए अच्छी बात यह है कि उसने इस सीजन में अब तक अपने पिछले पांच मैचों में से चार में जीत हासिल की है।  जबकि मुंबई की टीम ने पिछले पांच मैचों में से केवल तीन में जीत हासिल की है।
 
मध्य प्रदेश की ताकत: इस बार आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए हीरो साबित हुए रजत पाटीदार मध्य प्रदेश की टीम में उपकप्तान के तौर पर नजर आने वाले हैं. रजत ने इस बार आईपीएल में भी शतक लगाया। ऐसे में उनका शानदार फॉर्म मध्यप्रदेश को पहला खिताब दिलाने जा रहा है. उन्होंने इस सीजन में अपनी टीम के लिए अब तक 5 मैचों में सबसे ज्यादा 506 रन बनाए हैं। गेंदबाजों में स्पिनर कुमार कार्तिकेय 5 मैचों में 27 विकेट के साथ सर्वाधिक विकेट लेने की सूची में दूसरे स्थान पर हैं।