logo
जब टीम इंडिया के खिलाफ हार के डर से रोने लगे थे PAK क्रिकेटर्स, वसीम अकरम ने सुनाया 36 साल पुराना किस्सा
 

नई दिल्ली: जब भी भारत-पाकिस्तान क्रिकेट मैच होता है तो इन दोनों देशों का ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया के क्रिकेट फैंस की नजर इस हाई वोल्टेज मैच पर होती है। एशिया कप 2022 में भारत और पाकिस्तान 28 अगस्त को फिर से मिलने जा रहे हैं और उससे पहले दोनों टीमों के पूर्व खिलाड़ी भारत और पाकिस्तान के बीच हुए पिछले मैचों के कुछ दिलचस्प किस्से साझा कर रहे हैं और इसी कड़ी में पाकिस्तान के पूर्व कप्तान वसीम अकरम एक दिलचस्प कहानी भी सुनाई है। उन्होंने 36 साल पुराने एक ऐसे मैच का जिक्र किया जिसमें उनकी टीम के खिलाड़ी रोने भी लगे।

दरअसल, 1986 में भारत और पाकिस्तान के बीच ऑस्ट्रेलिया-एशिया कप का फाइनल मैच बीच में ही चल रहा था और पाकिस्तान ने एक विकेट से यादगार जीत हासिल की थी। यह वही मैच है, जिसमें जावेद मियांदाद ने चेतन शर्मा की गेंद पर छक्का लगाकर पाकिस्तान को ऐसी जीत दिलाई थी जिसे क्रिकेट प्रशंसक आज भी याद करते हैं। वसीम अकरम ने कहा, 'मुझे याद है मैं रन आउट हो गया था। तौसीफ अहमद ने सिंगल लिया और फिर मियांदाद ने भी सिंगल लिया। उस समय एक युवा खिलाड़ी था। जाकिर खान और मोहसिन कमाल भी युवा खिलाड़ी थे। लेकिन दोनों लगातार रो रहे थे। मैंने उससे कहा, भाई तुम क्यों रो रहे हो?'


"उन दोनों ने मुझसे कहा कि हमें यह मैच जीतना है। मैंने उन दोनों से कहा कि अगर तुम रोकर मैच जीत सकते हो, तो मैं भी तुम दोनों के साथ रोना शुरू कर देता हूं। जरा सोचिए कि गेंद जावेद भाई की गेंद पर अच्छी आई। इसके बाद ही जावेद ने छक्का लगाकर पाकिस्तान को जीत दिलाई।